नवरात्रि उत्सव पर होने वाले गरबा-डांडिया में उमड़ रही भारी भीड़ - Bharat Samvad

add

Post Top Ad

Thursday, September 29, 2022

नवरात्रि उत्सव पर होने वाले गरबा-डांडिया में उमड़ रही भारी भीड़

नवी मुंबई-: नवी मुंबई शहर में नवरात्रि उत्सव को लेकर कुछ अलग उत्साह देखने को मिल रहा है। शहर के अन्य ठिकानों पर शुरू डांडिया में भारी भीड़ जुट रही है। डांडिया में झूम रहे भक्तों के उत्साह को बीच-बीच में बारिश नरबस करने का प्रयास कर रही है,लेकिन भक्तों का जोश कमजोर होता नही दिख रहा है। वाशी, कोपर खैरने, घनसोली, सानपाड़ा, नेरुल, ऐरोली सहित अन्य क्षेत्रों में डांडिया की धूम है। घनसोली सेक्टर 9 स्थित मनपा मैदान में प्रशांत पाटिल मित्र मंडल द्वारा आयोजित शारदीय नवरात्रि उत्सव में मां दुर्गा के भक्तों की भारी भीड़ उमड़ रही है। शाम 8 बजे मां दुर्गा की वंदना के बाद गरबा-डांडिया का कार्यक्रम शुरू हो जाता है, और भक्त रात 10 बजे खूब नाचते झूमते हैं। कोपर खैरने में संस्कार सेवा मंडल के द्वारा तेरना ऑर्चिड स्कूल प्रांगण में गरबा-डांडिया का आयोजन नारायण शिंदे के मार्गदर्शन में हो रहा है। यह आयोजन 4 अक्टूबर तक निरंतर जारी रहेगा। वहीँ घनसोली में पूर्व नगरसेविका सुवर्णा प्रशांत पाटिल के संयोजन में यह धार्मिक कार्यक्रम चल रहा है। गत दिवस कार्यक्रम में पहुंचे फिल्म निर्माता एन.एम शिंदे,भवन निर्माता एमपी मिश्र, भूपेंद्र पांडेय सहित अन्य अतिथियों का स्वागत पूर्व नगरसेवक प्रशांत पाटिल ने किया। इस मौके पर पूर्व नगरसेविका कमलाताई पाटिल, समाज सेवक यदनेश प्रशांत पाटिल सहित कई लोग उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

भारत संवाद

भारत संवाद हिंदी समाचार पत्र एवं आनलाइन न्यूज पोर्टल, पल-पल की ख़बरों के साथ वह भाव व विचार जिससे जनता में उत्साह प्रेरणा जगे, जिससे लोग आत्महित, देशहित, समाजहित तथा जनहित में कार्य करने को तत्पर हो सकें को प्रचारित प्रसारित करने में लगा है। भारत संवाद भारतीय विचार, सभ्यता और संस्कृति को प्रचारित करने की एक धारा है। जो आपसी संवाद के जरिए आगे बढ़ रही है। हम देश के कोने कोने से जन संवाद के जरिए भारत की आत्मा बसुधैव कुटुम्बकम्(धरती ही परिवार है) भावना को आगे बढ़ाने को कृतसंकल्प हैं। इसमें हमें अभूतपूर्व सहयोग मिल रहा है। देश के अनेकों प्रदेश के साथ साथ विदेशों सें भी हमारे पाठक और विचारक इस मुहीम में आपना सहयोग दे रहे हैं। सभी में बैठे परमात्मा को शत शत प्रणाम।

MAIN MENU

\