जय हिंद सैनिक संस्था के राष्ट्रीय संयोजक बने पारसनाथ तिवारी - Bharat Samvad

Post Top Ad

Thursday, September 22, 2022

जय हिंद सैनिक संस्था के राष्ट्रीय संयोजक बने पारसनाथ तिवारी

नवी मुंबई-: सुप्रसिद्ध समाजसेवी तथा एनसीपी के पूर्व को-आर्डिनेटर पारसनाथ तिवारी को जय हिंद सैनिक संस्था एनजीओ का राष्ट्रीय संयोजक नियुक्त किया गया है। अभी हाल ही में नवी मुंबई में आयोजित एक कार्यक्रम में संस्था के अध्यक्ष पंजाबराव मुधाने ने श्री तिवारी को नियुक्ति पत्र देकर उनको सम्मानित किया। अपनी नियुक्ति पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पारसनाथ तिवारी ने कहा कि अधिक से अधिक युवाओं को संस्था से जोड़ना उनका प्रमुख लक्ष्य होगा। आगे उन्होंने कहा कि भारत युवाओं का देश है। युवाओं की ऊर्जा को राष्ट्र निर्माण के कार्यों में लगाए जाने की जरूरत है। क्योंकि युवा ही देश को नई दिशा देने में सक्षम होते हैं। उन्होंने कहा कि आज लोगों में देश भक्ति की भावना बढ़ाने की जरूरत है। अगर सभी देशवासी ठान लें तो हमारा देश फिर से सोने की चिड़िया बन जायेगा। बता दें कि पारसनाथ तिवारी राकांपा के कोआर्डिनेटर और केंद्रीय उपभोक्ता मामले,खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय भारत सरकार कृषि भवन नई दिल्ली में तीन बार हिंदी सलाहकार के पद पर काम कर चुके हैं। वे महाराष्ट्र एनसीपी में चार बार सचिव और तीन बार महासचिव भी रह चुके हैं। पेशे से भवन निर्माता तिवारी उत्तर भारतीय संघ मुंबई व उत्तर भारतीय समाज कल्याण परिषद कल्याण के ट्रस्टी, यात्री सेवा सुविधा संगठना और नागरिक लोकाधिकार संरक्षण मंच के संस्थापक अध्यक्ष हैं। वे पीटीआरएस हाई स्कूल टिटवाला और होली किड्स जोन स्कूल टिटवाला के संचालक और सामाजिक सद्भावना अभियान के संयोजक भी हैं। इसके साथ ही साथ तिवारी अनेक सामाजिक संगठनों से जुड़े हुए हैं। श्री तिवारी की नियुक्ति पर पत्रकार सुरेंद्र मिश्र, पूर्व परमाणु वैज्ञानिक अरुण सक्सेना, पूर्व परमाणु बैज्ञानिक रमेश मोदी, पूर्व सैनिक जनार्दन पाटिल, डाक्टर वीरेंद्र मिश्र, प्राध्यापक लक्ष्मीकांत शुक्ला तथा समाजसेवी कमलेश तिवारी सहित अन्य लोगों ने हर्ष प्रकट करते हुए उन्हें बधाई दी है।

No comments:

Post a Comment

भारत संवाद

भारत संवाद हिंदी समाचार पत्र एवं आनलाइन न्यूज पोर्टल, पल-पल की ख़बरों के साथ वह भाव व विचार जिससे जनता में उत्साह प्रेरणा जगे, जिससे लोग आत्महित, देशहित, समाजहित तथा जनहित में कार्य करने को तत्पर हो सकें को प्रचारित प्रसारित करने में लगा है। भारत संवाद भारतीय विचार, सभ्यता और संस्कृति को प्रचारित करने की एक धारा है। जो आपसी संवाद के जरिए आगे बढ़ रही है। हम देश के कोने कोने से जन संवाद के जरिए भारत की आत्मा बसुधैव कुटुम्बकम्(धरती ही परिवार है) भावना को आगे बढ़ाने को कृतसंकल्प हैं। इसमें हमें अभूतपूर्व सहयोग मिल रहा है। देश के अनेकों प्रदेश के साथ साथ विदेशों सें भी हमारे पाठक और विचारक इस मुहीम में आपना सहयोग दे रहे हैं। सभी में बैठे परमात्मा को शत शत प्रणाम।

MAIN MENU

\